Page 10 - PTEC, Provisional List Incorrect (1) ok (1)
P. 10

प्रबशक्षण  क  अबन्‍दत्  ददिस  को  एक  योलय     व्यिहाररक िािकारी  प्रदाि करक,  प्रबतभाबगयों
                              े
                                                                                                  े
               िररष्ठ  बणदकत्सक  एिं  तकिीकी  रूप  से  दक्ष        द्वारा  उठाये  गये  प्रश्नों  एिं  शंकाओं  का  श्ि
               प्रबशक्षक  द्वारा  कोबि -19  बिषयक  बिस्तृत         सहिता एिं सरिता से दकया गया



                                        ब बिटि ्ािबणत्र प्रायोबगक कायश





                    आगा्ी  भारत  की  ििगणिा  2021                  सूणिा  तंत्र  (GIS)  आधाररत  ्ािबणत्रण  दकया

                                                       ें
                               ें
               ब बिटि रूप ् की िाएगी  इस कडी ् भारत                गया   इसी प्रकार ििगणिा 2011 क स्य क
                                                                                                        े
                                                                                                                े
                 े
               क  ्हारबिस्रार  का  कायाशिय  क  अिुदेशों  क         ििसंख्या  गणिा  ब्िॉकों  (PEBs),  िो  दक
                                                             े
                                                 े
               अिुरूप ििगणिा कायश बिदेशािय, रािस्िाि क             ििगणिा  2021  क  बिए  ्काि  सूणी  गणिा
                                                             े
                                                                                      े
                          ूं
                                          े
               द्वारा  णौ्  िगरपाबिका  क  बिबभन्न  िा ों  एिं      ब्िॉकों (HLBs) ् पररिर्तशत दकए गए, का भी
                                                                                     ें
               ्काि सूणी गणिा ब्िॉकों का णयि दकया गया              िी. आई. एस. आधाररत ्ािबणत्रण दकया गया
                         े
               एिं  उिक  टर््िि  सी्ा  हिंदुओं  को  ArcGIS
                              श
               Quick  Capture  ऐप्प  क  ्ाध्य्  से  कप्णर
                                          े

                                    श
               दकया गया   इि टर््िि सी्ा हिंदुओं से िा ों
                                                        ं
               ि  ब्िॉकों  की  अक्षाशीय  एिं  देशातरीय
                                       ं
               अिबस्िबत  को  भारत  क  ्हारबिस्रार  का
                                         े
               कायाशिय क ‘्ािबणत्र सिशर’ पर भिा गया
                          े
                                                 े








                                                                   बिदेशक ििगणिा कायश क्षेत्र परीक्षण करते ुएए

                                                                       इस  कायश  स  ििगणिा  2011  क  स्य
                                                                                    े
                                                                                                          े
                                                                   ब्िॉकों को सुबियोबित रूप से ििगणिा 2021
                                                                    े
                                                                   क बिए िए पररसी्ि क अिुरूप बिभि करिे
                                                                                           े
                                                                   ् सहायता प्राप्त  होगी  साि ही ििगणिा कायश
                                                                    ें
                                                                                                 ू
                                                                                         े
                                                                                              े
                                                                   क  दौराि  दकसी  भी  क्षत्र  क  छटिे  या  दोहराि
                                                                    े
                  बिदेशक ििगणिा कायश बिरीक्षण करते ुएए
                                                                                                 ें
                                                                   होिे की बस्िबत को पहणाििे ् आसािी होगी
                    बिदेशािय  क  ्ािबणत्र  अिुभाग  द्वारा  इि      राष्ट्ीय  ्हत्त्ि  क  इस  िी.आई.एस.  आधाररत
                                े
                                                                                   े
                                                        े

               कप्णर  दकए  गए  टर््िि  सी्ा  हिंदुओं  स  णौ्  ूं    ेटािेस  का  भबिष्य  ्  िुए-आया्ी  प्रयोग  हो
                                    श
                                                                                         ें
                              े
               िगरपाबिका  क  ितश्ाि  िा ों  का  भौगोबिक            सकगा
                                                                      े
                 ई-समाचार पत्र – ससतम् बर 020                                                               10
   5   6   7   8   9   10   11   12   13   14   15