Page 5 - PTEC, Provisional List Incorrect (1) ok (1)
P. 5

उद्घाटि स्ारोह ्ें बिदेशक ििगणिा कायश          त यार  करिाया  गया  ह    श्री  िोशी  िे  अपिे
                                    े
               सबहत  बिदेशािय  क  अबधकारी  करीय  िोक               संिोधि  ्ें  यह  भी  िताया  दक  अि  ििगणिा
                                                   ें
                         े
               बि्ाशण  क  अबधकारी  एिं  रािस्िाि  सरकार            प्रगणक बसफ प्रगणक ही िहीं ह  िब क  ाटा एंरी
                                                                              श
               ििगणिा  क  िो ि  अबधकारी  द्वारा  भाग  बिया         ऑपरटर का कायश भी करगा
                           े
                                                                        े
                                                                                         े
               गया   इस  अिसर  पर  बिदेशािय  क  द्वारा  एक
                                                   े
                                                                                            े
                                                                                                                े
                    े
               प्रेिेंटशि भी प्रस् तुत दकया गया                        उद्घाटि  स्ारोह  क  पिात  भारत  क
                                                                   ्हारबिस्रार एिं ििगणिा आयुि एिं बिदेशक
                                                                   ििगणिा कायश रािस्िाि द्वारा बिदेशािय प्रांगण
                                                                   ्ें िृक्षारोपण का कायश भी दकया गया














                    श्री िोशी िे अपिे संिोधि ्ें िताया दक देश

               ्ें पहिी िार ब बिटाइि ििगणिा कराई िाएगी
               Pre-Test  2019  क  दौराि  ििगणिा  का  कायश
                                   े
               ऐप  द्वारा  इबलिश  ्ाध्य्  से  कराया  गया  िा,
                           ं
               िेदकि  अि  यही  कायश  ऐप  द्वारा  16  भाषाओं  ्ें






















                ई-समाचार पत्र – ससतम् बर 020                                                                5
   1   2   3   4   5   6   7   8   9   10